Categories

बर्फबारी के कारण शिकारी देवी मन्दिर न जाएं पर्यटक : एसडीएम थुनाग

॥> शिकारी माता मन्दिर के कपाट मार्च 2023 तक रहेंगे पूर्णतय बन्द

मंडी : शिकारी माता मन्दिर में 13 नवम्बर से रूक-रूक कर बर्फवारी हो रही है तथा आगामी दिनों में भारी बर्फबारी की सम्भावना है। वर्फबारी के कारण स्थानीय प्रशासन द्वारा शिकारी माता मन्दिर के कपाट दिनांक 15 नवम्बर 2022 से मार्च 2023 तक पूर्णतय बन्द करने के आदेश जारी किये गए हैं।
एसडीएम थुनाग एवं अध्यक्ष शिकारी माता मन्दिर कमेटी थुनाग पारस अग्रवाल ने बताया कि शिकारी माता मन्दिर में 13 नवम्बर से रूक-रूक कर बर्फवारी हो रही है तथा आगामी दिनों में भारी बर्फबारी की सम्भावना है। इस कारण भुलाह-रायगढ तथा अन्य सम्पर्क मार्गोंं से शिकारी माता मन्दिर के रास्ते मार्च माह तक पूर्णतय बन्द रहते है। इसलिए शिकारी माता मन्दिर की ओर जाने वाले स्थानों से सभी प्रकार का सम्पर्क कट जाता है। इस लिए उन्होंने कहा कि कोई भी श्रद्धालु, पर्यटक, टरैक्रज इस दौरान शिकारी माता मन्दिर की ओर जाने का प्रयास न करें।
पारस अग्रवाल ने स्थानीय जनता से आग्रह करते हुए कहा कि उनके सम्पर्क में आने वाले सभी नागरिकों को भी इस की जानकारी उपलब्ध करवाएं ताकि कोई भी श्रद्धालु, पर्यटक तथा टरैक्रज बर्फबारी के कारण अपनी जान जाखिम में न डाले।