जुब्बल में आयोजित किया गया प्रतिभा खोज कार्यक्रम


शिमला : युवा केंद्र शिमला, युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय भारत सरकार द्वारा तीन दिवसीय युवा नेतृत्व एवं सामुदायिक विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम जुब्बल में कार्यक्रम के दूसरे दिन की शुरुआत सभी प्रतिभागियों के द्वारा योग करके की गयी। यह जानकारी नेहरू युवा केंद्र शिमला की जिला युवा अधिकारी मनीषा शर्मा ने दी।  
इस कार्यक्रम के दूसरे दिन के पहले सत्र में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के प्रधानाचार्य विवेक मेहता जी ने “नेतृत्व और संचार कौशल के घटक” विषय पर अपने विचार प्रतिभागियों के समक्ष रखे। इस सत्र में मुख्य अतिथि के रूप में शिक्षा विभाग से सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य ज्ञानी राम शर्मा उपस्थित रहे।
कार्यक्रम के दूसरे सत्र में “युवा केन्द्रित सामुदायिक विकास मोडल” पर सहायक प्रोफेसर संदेश कालटा जी ने सभी युवा प्रतिभागियों को संबोधित किया। इस सत्र के मुख्य अतिथि के रूप में बागवानी विभाग से सेवानिवृत्त कमला नन्द जी उपस्थित रहे।
कार्यक्रम के तीसरे सत्र में इंस्पेक्टर लीगल मेट्रोलोजी ने “आजादी का अमृत महोत्सव-इंडिया/75” विषय पर अपने विचार रखे। इस सत्र में मुख्य अतिथि के रूप मे बिरबान सिंह रावत, मैकेनिकल अभियंता (उप प्रबन्धक) रक्षा विभाग तथा कृषि व्यवसाय ‘हिल्ली फूड्स’ के अध्यक्ष उपस्थित रहे।
इसके उपरांत प्रतिभागियों की प्रतिभा को निखारने के लिए एक प्रतिभा खोज कार्यक्रम किया गया, जिसके अंतर्गत सभी प्रतिभागियों ने प्रतिभा अनुसार अपनी- अपनी प्रस्तुति दी। प्रतिभा खोज कार्यक्रम के लिए मुख्य अतिथि के रूप में दिनेश पिर्टा उपस्थित रहे।
कार्यक्रम के उपरांत सभी प्रतिभागियों को श्रमदान के लिए भी प्रोत्साहित किया गया तथा सभी ने कार्यक्रम स्थल के नजदीक बन रहे एक मंदिर में स्वेच्छा से श्रमदान किया।
नेहरू युवा केंद्र शिमला की जिला युवा अधिकारी मनीषा शर्मा ने युवाओं को संबोधित करते हुए बताया कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य है युवाओं के व्यक्तित्व को इस तरह से विकसित किया जा सके, जिससे युवा स्वयं के सबसे अच्छे संस्करण पर पहुँच पायें।  
इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत युवाओं को मौलिक जीवन कौशल, पारस्परिक कौशल, एक दूसरे के प्रति सहानुभूति एवं नेतृत्व कौशल आदि विषयों पर सशक्त किया जायेगा ताकि युवा आगे बढ़कर नेतृत्व करते हुए अपनी जिम्मेदारी को समझकर सामुदायिक एवं सामाजिक विकास के कार्यों में अपना योगदान दे सकें।
कार्यक्रम में भाग लेने वाले युवाओं के बीच सामुदायिक विकास, स्वयंसेवा सामाजिक प्रतिबद्धता एवं देशभक्ति के मूल्यों के प्रति जागरूक किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *