Categories

सुधीर बागियों के सरगना, 15 करोड़ रुपये से अधिक मिले होंगे : मुख्यमंत्री

जनता की अदालत में सामने आएंगे सभी कारनामे, आय से अधिक संपत्ति के मामले भी खुलेंगे
बिकाऊ को कभी जिताऊ नहीं बनाएगी जनता, बागी विधायकों की विधानसभा में हुए 300 से 400 करोड़ के काम
जयराम ठाकुर की सत्ता की भूख ज्यादा बढ़ गई, इसलिए नोटों के दम पर सत्ता हथियाना चाह रहे

नादौन : मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने शुक्रवार को बागी विधायकों और नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर पर एक बार फिर तीखा हमला बोला। नादौन में पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि धर्मशाला के पूर्व विधायक सुधीर शर्मा बागियों के सरगना हैं, उन्हें 15 करोड़ रुपये से भी अधिक मिले होंगे। भाजपा में गए छह पूर्व विधायकों के सभी कारनामे जनता की अदालत में सामने आएंगे। जिन्होंने आय से अधिक संपत्ति अर्जित की है, उनके मामले भी खोले जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर की सत्ता की भूख ज्यादा बढ़ गई है। वोट के दम पर सरकार नहीं बना सके तो अब नोटों के दम पर सत्ता हथियाना चाह रहे हैं। जनता भाजपा को नकार चुकी है, यह जयराम ठाकुर को दिमाग में बिठा लेना चाहिए। अन्य प्रदेशों में भाजपा ने नोटों के दम सत्ता हथियाई, वैसा ही हिमाचल में करना चाह रहे थे। लेकिन, भगवान हमारे साथ हैं और उन्होंने हमें जनता की सेवा का मौका दिया है।

ठाकुर सुखविंदर सिंह ने कहा कि बिकाऊ को जनता कभी जिताऊ नहीं बनाएगी। बागी विधायकों के विधानसभा क्षेत्रों में 300 से 400 करोड़ रुपये के काम हुए हैं। उनकी मर्जी के एसडीएम, बीडीओ, तहसीलदार, अधिशाषी अभियंता और एसडीओ लगाए, फिर भी बिक गए। राजनीति में यह नहीं होना चाहिए कि चुनाव में जो राशि खर्च की है, विधायक बनने के बाद उसे पूरा करने में जुट जाएं और कमाई न हो तो सरकार गिराने की साजिश रच दें। बिकाऊ विधायकों का चरित्र जनता के सामने बेनकाब हो चुका है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने आजादी से पहले और बाद में भी लड़ाई लड़ी। पहले देश को आजाद कराने की लड़ाई थी, बाद में देश को अपने पैरों पर खड़ा करने की। जब देश आजाद हुआ तब सुई तक नहीं बनती थी। कांग्रेस के दो प्रधानमंत्रियों, एक पूर्व मुख्यमंत्री सहित अनेक नेताओं व कार्यकर्ताओं ने देश के लिए अपने प्राण न्योछावर किये हैं। कांग्रेस की विचारधारा देश को आगे बढ़ाने की है।

टिकटों पर शनिवार को साफ होगी स्थिति
मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह ने कहा कि शनिवार को लोकसभा चुनाव व विधानसभा उपचुनाव के टिकट फाइनल करने के लिए दिल्ली में स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक होगी। उसके बाद केंद्रीय चुनाव समिति को नाम भेजे जाएंगे। शाम तक टिकटों को लेकर स्थिति साफ हो जाएगी।