Categories

पांगी घाटी में ठांगी और चिलगोजे की पैदावार बढ़ाने पर रखी जाए विशेष प्राथमिकता : डॉ.रामलाल मारकंडा

चंबा : तकनीकी शिक्षा एवं जनजातीय विकास मंत्री डॉ.रामलाल मारकंडा की अध्यक्षता में जनजातीय उपमंडल किलाड़ के पुस्तकालय भवन में परियोजना सलाहकार समिति बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में स्थानीय विधायक जियालाल कपूर विशेष रूप से मौजूद रहे ।
एकीकृत जनजातीय विकास परियोजना के तहत डॉ. रामलाल मारकंडा ने पांगी घाटी में चल रहे विभिन्न विकासात्मक कार्यों की समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए। पांगी घाटी में ठांगी और चिलगोजे पैदावार की अपार संभावनाओं के अनुरूप उन्होंने वन विभाग से पैदावार बढ़ाने को लेकर विशेष प्राथमिकता रखने को कहा । उन्होंने विभाग को यह निर्देश भी दिए की पठानकोट में निर्मित किए जा रहे वन विश्राम गृह का निर्माण कार्य 5 अक्टूबर से पहले पूरा करना सुनिश्चित बनाया जाए ।
घाटी में ग्रामीण विकास से संबंधित कार्यों में विशेष अधिमान देने की आवश्यकता पर जोर देते हुए जनजातीय विकास मंत्री ने खंड विकास अधिकारी को सामुदायिक आधारित गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए आवश्यक कदम उठाने को कहा। उन्होंने यह निर्देश भी दिए कि जन कल्याण से संबंधित कार्य में विशेष प्राथमिकता रखी जाए ताकि अधिक से अधिक संख्या में लोगों को सरकार की विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित किया जा सके। पर्यटन विकास के लिए महत्वपूर्ण होम स्टे योजना के अंतर्गत पंजीकरण व्यवस्था को स्थानीय स्तर पर उपलब्ध करवाने की परियोजना सलाहकार समिति सदस्यों की मांग पर डॉ रामलाल मारकंडा ने आवश्यक कार्रवाई का आश्वासन दिया ।
बैठक में विधायक जियालाल कपूर ने कहा कि चूंकि बर्फबारी के कारण घाटी में सीमित कार्य दिवस रहते हैं । ऐसे में सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों का यह मौलिक दायित्व बनता है कि वे विकास कार्य में अपनी विशेष प्राथमिकता रखें और अपना पूर्ण योगदान दें।
इससे पहले डॉ.रामलाल मारकंडा ने ग्राम पंचायत मिंधल का दौरा कर जन समस्याओं का समाधान किया। डॉ. रामलाल ने जन समस्याओं के त्वरित समाधान को लेकर स्थानीय अधिकारियों को निर्देश जारी किए। उन्होंने क्षेत्र में पेयजल समस्या व विद्युत समस्या के शीघ्र समाधान और संपर्क सड़क के निर्माण कार्य में तेजी लाने को भी कहा ।
उन्होंने उच्च विद्यालय मिन्धल में खेल मैदान बनाने के लिए लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश भी जारी किए । उन्होंने प्रसिद्ध शक्ति स्थल मिंधल माता मंदिर प्रांगण के सौन्दरीयकरण कार्यों के लिए के 20 लाख की धनराशि देने का ऐलान किया। इस अवसर पर आवासीय आयुक्त अजय कुमार यादव, उपाध्यक्ष जिला परिषद हाकम सिंह राणा, परियोजना सलाहकार समिति के सदस्य कल्याण सिंह, तुरप चंद व राजकुमार, विभिन्न पंचायत प्रतिनिधि व् सभी विभागों के कार्यालय अध्यक्ष उपस्थित रहे।