कृषि और पशुपालन व्यवसाय में लोगों की रुचि बढ़ाने पर दिया जाएगा विशेष ध्यान : चंद्र कुमार

ज्वाली : कृषि तथा पशुपालन मंत्री चौधरी चंद्र कुमार ने कहा है कि किसानों को आधुनिक तकनीकें उपलब्ध करवाने के साथ लोगों की कृषि और पशुपालन व्यवसाय में रुचि बढ़ाने के लिए विशेष प्रयास किये जायेंगे। ताकि वे आर्थिक रूप से सुदृढ़ बन सकें। यह विचार उन्होंने आज ज्वाली विश्राम गृह में अधिकारियों तथा लोगों को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किये। इस मौके पर एसडीएम मोहिंद्र प्रताप सिंह, कांग्रेस पार्टी मण्डलाध्यक्ष चैन सिंह गुलेरिया सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी तथा गणमान्य लोग उपस्थित रहे।
कृषि मंत्री ने कहा कि खेती की विभिन्न किस्मों को उगाने के प्रति किसानों को प्रेरित करने हेतु जहां कृषि विशेषज्ञों द्वारा खेतों में जाकर मिट्टी की जांच सुनिश्चित की जाएगी वहीं पैदावार को बढ़ाने के साथ-साथ आधुनिक तकनीक से खेतीबाड़ी करने बारे भी लोगों को प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कृषकों और पशुपालकों के समग्र विकास के लिये प्रदेश सरकार द्वारा ठोस नीति लायी जाएगी। उन्होंने कहा कि किसानों की फसलों को बेसहारा पशुओं तथा जंगली जानवरों से बचाने के लिए एक निर्णायक नीति बनाना भी उनकी प्राथमिकता रहेगी। उन्होंने कहा कि वे स्वयं लंबे समय तक कृषि से जुड़े रहे हैं इसलिए कृषकों की समस्याओं को भलीभाँति जानते हैं। उन्होंने कहा कि सड़कों पर घूम रहे पशु जहां लोगों की फसलों को उजाड़ रहे हैं वहीं दुर्घटनाओं का भी कारण बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे पशुओं की पहचान के लिए टैगिंग की व्यवस्था को मजबूत बनाया जाएगा ताकि उसके असली मालिक की पहचान कर उसे जुर्माना लगाया जा सके।
उन्होंने कहा कि कृषि तथा पशुपालन हर प्रकार से लाभ का व्यवसाय है लेकिन आज कि पीढ़ी इसमें रुचि नहीं दिखा रही है। उन्होंने बताया कि युवा पीढ़ी को कृषि तथा पशुपालन व्यवसाय से जोडऩे के लिए विशेष प्रयास किये जायेंगे। ताकि वे अपने अन्य कार्यों के साथ इन व्यवसायों को अपना कर लाभ कमा सकें।
कृषि मंत्री ने कहा कि कृषि विशेषज्ञों से किसानों की खेतीबाड़ी सम्बन्धी समस्याओं के समाधान के लिए नियमित रूप से खेतों में जाकर निपटारा करने के भी निर्देश दिए।
कृषि मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार चुनाव से पहले प्रतिज्ञा पत्र में दी गई सभी गारंटियों को चरणबद्ध तरीके से पूरा करेगी। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों की ओपीएस बहाल करने की मांग को पूरा कर उनसे किये गए वायदे को पूरा कर सबसे बड़ा तोहफा दिया गया है। ।
उन्होंने सभी अधिकारियों को सड़कों के बेहतर रखरखाव, पानी तथा बिजली की नियमित आपूर्ति के साथ स्वास्थ्य सुविधाओं के बेहतर बनाये रखने के भी निर्देश दिए। उन्होंने सभी अधिकारियों से पूरी लग्न, निष्ठा तथा ईमानदारी से कार्य करने तथा आम लोगों की समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर निपटाने के भी निर्देश दिए। कृषि मंत्री ने इस मौके पर लोगों की समस्याओं को सुना और अधिकतर का मौके पर ही निपटारा कर दिया। जबकि शेष समस्याओं के शीघ्र समाधान के अधिकारियों को निर्देश दिए।
न्यू पेंशन स्कीम एसोसिएशन जि़ला काँगड़ा के अध्यक्ष राजिन्द्र मन्हास की अगुवाई में प्रतिनिधि मंडल ने भी कृषि मंत्री का पुरानी पेंशन बहाली के लिए सुक्खू सरकार का आभार जताया। इसके अतिरिक्त राजा का तालाब , नगरोटा सूरियां तथा ज्वाली ब्लॉक के विभिन्न कर्मचारी संघों ने भी कृषि मंत्री से मिलकर ओपीएस बहाली पर आभार जताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *