Categories

बिना होटल बुकिंग के आने वाले पर्यटकों के लिए टूटीकंडी से चलेगी शटल सेवा : उपायुक्त

शिमला : क्रिसमस और नये साल के जश्न के लिए शिमला आने वाले पर्यटक बिना होटल बुकिंग के आने पर उनके निजी वाहनों को टूटीकंडी बाईपास के पास ही रोक दिया जाएगा तथा उन्हें वहां से शटल सेवा के माध्यम से सीटीओ चौक तक पहुंचाया जाएगा। यह जानकारी उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने आज क्रिसमस और न्यू ईयर की तैयारियों के संबंध में बुलाई गई बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी।
उन्होंने एचआरटीसी को शटल सेवा की तैयारियों करने के निर्देश देते हुए कहा कि उनके बेड़े में मौजूद टैम्पू ट्रैवलर तथा ईनोवा गाडिय़ों को टूटीकंडी से सीटीओ तक पहुंचाने के लिए इस्तेमाल करने को कहा। साथ ही पर्यटकों को वापिस टूटीकंडी पहुंचाने के लिए भी सीटीओ से ही शटल सेवा उपलब्ध रहेगी, जो रात्रि 11.30 बजे तक उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि इन दोनों त्यौहारों पर काफी संख्या में पर्यटक पहाड़ों की रानी शिमला घूमने के लिए आते हैं तथा इससे कई बार शहर में जाम की स्थिति पैदा हो जाती है। इस समस्या से निजात पाने के लिए एचआरटीसी शटल सेवा शुरु करेगी।
उन्होंने कहा कि जो पर्यटक कनफर्म होटल बुकिंग के दस्तावेज लेकर आएंगे, उन्हें शहर के अंदर आने की अनुमति दी जाएगी। साथ ही उन्होंने कहा कि क्रिसमस और नए साल के उपलक्ष्य पर शिमला शहर और आसपास के क्षेत्रों को पांच सेक्टर में विभाजित किया गया है, जिनमें 6 मैजिस्ट्रेट तथा पुलिस विभाग के नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं।
उपायुक्त ने कहा कि बेहत्तर प्रबंधन के लिए 106 अतिरिक्त पुलिस जवानों की व्यवस्था की गई है, जिन्हें आवश्यकतानुसार थानों में नियुक्त किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह पुलिस जवान यातायात प्रबंधन से लेकर भीड़ के प्रबंधन में सहयोग करेंगे।
आदित्य नेगी ने कहा कि अत्यधिक पर्यटकों के आने की स्थिति में पर्यटक वाहनों को टूटीकंडी से मल्याणा की ओर मोड़ा जाएगा। आवश्यकता हुई तो कुफरी तथा नालदेहरा जाने वाले पर्यटकों को शोघी-ढली बाईपास रोड की ओर डायवर्ट किया जाएगा। उन्होंने कहा कि शोघी पुलिस पोस्ट पर तैनात जवान पर्यटकों को जाम की स्थिति से बचाने के लिए उन्हें गाइड करेंगे। टूरिस्ट बसों और भारी वाहनों को शहर के अन्दर आने की अनुमति नहीं दी जाएगी।
इसके अतिरिक्त जिलाधीश ने नगर निगम शिमला को पर्यटकों की सुविधा के लिए सड़कों, रास्तों, रिज, मालरोड तथा आसपास के क्षेत्रों में पर्याप्त लाईटिंग व्यवस्था करने के निर्देश भी दिए। बैठक में अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी (कानून एवं व्यवस्था) राहुल चौहान, एएसपी सुनील नेगी, नगर निगम आयुक्त आशीष कोहली, उपमण्डलाधिकारी शिमला शहरी भानु गुप्ता सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा पर्यटन उद्योग से जुड़े विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।