Categories

शाहपुर विधानसभा क्षेत्र में विकास को दी जा रही सर्वोच्च प्राथमिकता : सरवीण चौधरी

धर्मशाला : शाहपुर विधानसभा क्षेत्र में विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता प्रदान की जा रही है। शाहपुर के लोगों ने जो विश्वास उन पर जताया है, वे लोगों की अपेक्षाओं तथा आशाओं पर खरा उतरते हुए, विकास की दृष्टि से शाहपुर विधानसभा क्षेत्र को एक आदर्श विधानसभा क्षेत्र बनाने में जुटी हैं।
    सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीण चौधरी आज शाहपुर विधानसभा क्षेत्र के सिद्धपुर में 5.70 लाख रुपए की लागत से निर्मित सामुदायिक भवन का उद्घाटन और पटियालकर में राजकीय प्राथमिक पाठशाला में 4 लाख 35 हजार से निर्मित एक कमरे का उद्घाटन करने के उपरांत बोल रही थीं। उन्होंने कहा कि सरकार समाज के कमजोर व उपेक्षित वर्गों के कल्याण के प्रति वचनबद्ध है। सरकार ने यह सुनिश्चित बनाया है कि विकास के लाभ समाज के हर वर्ग तक पहुंचे।
    सरवीन ने कहा कि मुख्यमंत्री ने बजट में सभी के लिए बिना आय सीमा वृद्धावस्था पेंशन की आयु सीमा को घटाकर 60 वर्ष करने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा कि 60 से 65 वर्ष की आयु वर्ग की महिलाओं को भी बिना किसी आय सीमा के वृद्धावस्था पेंशन प्राप्त होगी। उन्होंने कहा कि अब 7.50 लाख लाभार्थियों को वृद्धावस्था पेंशन योजनाओं का लाभ मिलेगा, जिस पर 1300 करोड़ व्यय किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि 60 यूनिट तक की बिजली खपत के लिए जीरो बिलिंग की जाएगी, जिससे लगभग 4.50 लाख उपभोक्ता लाभान्वित होेंगे। उन्होंने कहा कि 61 से 125 यूनिट के बीच बिजली खपत करने वाले 7 लाख से अधिक उपभोक्ताओं को लाभ प्रदान करने के लिए भी एक रुपये प्रति यूनिट की रियायती दर पर सस्ती बिजली उपलब्ध करवाई जाएगी।
    उन्होंने कहा कि नाबार्ड के अंतर्गत उठाऊ पेयजल योजना हारचक्कियां लपियाना के सुधारीकरण व विस्तारीकरण पर 157.95 लाख रुपये व्यय होंगे जिसमें 4 पंचायत हारचक्कियां, लपियाना, थेहड़ व परगोड के 8 गाँव जिसमें लगभग 3500 लोग लाभान्वित होंगे । जलजीवन मिशन के अंतर्गत विभिन्न पेयजल योजना का सुधार शाहपुर के अंतर्गत 109.10 लाख व्यय होंगे, 9 पंचायत में 27 गांवों के लगभग 9000 लोग लाभान्वित होंगे ।एशियन डेवलपमेंट बैंक के अंतर्गत विभिन्न पेयजल योजनाओं का सुधारीकरण पर 3190.34 लाख खर्च किये जा रहे हैं। इसमें में भी 7 पंचायतों के 27 गांवों लगभग 9000 लोगों को फायदा मिलेगा। उन्होंने कहा कि नाबार्ड के अंतर्गत उठाऊ पेयजल योजना बडँज, सिरमनी, सिद्धपुर और साथ लगते गांव के लिए योजना का निर्माण कार्य के अंतर्गत 110.10 लाख रुपये व्यय किये जा रहे हैं। इस योजना के अंतर्गत 2 पंचायतोें ततवानी व हरनेरा के 11 गांव व 24 छोटे गांव जिनकी जनसंख्या में 1678 है, लोग लाभान्वित होंगे । जल जीवन मिशन के अंतर्गत विभिन्न पेयजल योजनाओं का सुधार निर्वाचन क्षेत्र शाहपुर के अंतर्गत योजना का निर्माण जल जीवन मिशन चरण-2 के अंतर्गत खर्च की जाने वाली राशि 136.05 लाख है। इस योजना के अंतर्गत है 2 पंचायत ततवानी व हरनेरा  में 11 गांव 24 छोटे गांव आते हैं। इस योजना में वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का निर्माण कार्य चला हुआ है। इस योजना के अंतर्गत 117 नल लगाए जायेंगे जिसमें 40 नल स्थापित कर दिए गए हैं।
    सरवीण ने कहा कि हरनेरा, बड़ज, सिद्धपुर, सलवाणा, ततवाणी सड़क के सुधारीकरण और उसको चौड़ा करने पर 436 लाख रुपए व्यय किए जा रहे हैं, जिसका कार्य प्रगति पर है। रैत, नेरटी, बल्ला, बालड़ू, संध, पुहाड़ा सड़के के सुधारीकरण और उसको चौड़ा करने के लिए 16.69 करोड़ रुपए का एस्टीमेट अनुमोदन के लिए भेजा गया है। स्वास्थ्य उपकेन्द्र सल्याणा के भवन निर्माण पर 27 लाख रुपए व्यय किए जा रहे हैं जिसका निर्माण कार्य 90 प्रतिशत पूर्ण हो चुका है। राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला में सीढ़ी हॉल सहित एक कमरे के निर्माण पर 12 लाख रुपए व्यय किए जा रहे हैं जिसका 70 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है। बड़ज, सिरमनी सड़क की मैटलिंग और टॉरिंग पर 50 लाख रुपए व्यय किए गए हैं। हरनेरा से हरनेरा बाग सड़क                                       पर 40 लाख रुपए व्यय किए जा रहे हैं, जिसका 70 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है।
    इसके उपरांत उन्होंने सिद्धुपर और पटियालकर में लोगों की समस्याओं को भी सुना जिनमें से अधिकतर का मौके पर निपटारा कर दिया गया और शेष समस्याओं को सम्बन्धित विभागाध्यक्षों को शीघ्र निपटारे के आदेश दिए।
    इस मौके पर एसडीओ जल शक्ति विभाग शरती शर्मा, जेई लोक निर्माण विभाग नीरज गर्ग, जेई जलशक्ति अक्षय गुलेरिया, प्रधान ततवानी मधुबाला, प्रधान घरोह तिलक शर्मा, शिक्षक महासंघ के प्रधान पवन कुमार, भरूपलाहड प्रधान हरनाम सिंह, पटियालकर स्कूल की मुख्याध्यापक कंचन बाला सहित काफी संख्या में स्थानीय लोग उपस्थित रहे।