Categories

प्रधानमंत्री मोदी ने दी हिमाचल को 2 और केंद्रीय विद्यालय की सौग़ात : अनुराग ठाकुर

38 करोड़ की लागत से हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में केवी नादौन व केवी सलोह का लोकार्पण : अनुराग ठाकुर
नादौन व सलोह के साथ नलेटी, घुमारवीं, बंगाणा, धर्मपुर व संधोल को लेकर हमीरपुर में कुल 6 केंद्रीय विद्यालय

हमीरपुर : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर लोकसभा स्थित नादौन और स्लोह में 2 केंद्रीय विद्यालयों की सौगात दी। प्रधानमंत्री ने आज लगभग 38 करोड़ की लागत से बने इन नए भवनों का उद्घाटन कर उन्हें आम जनमानस को समर्पित किया।

इस अवसर पर खुशी जाहिर करते हुए केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा एवं खेल मामलों के मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने इसे हमीरपुर और हिमाचल प्रदेश की जनता के लिए ऐतिहासिक और बेहद लाभकारी बताया। अनुराग ठाकुर ने दोनों विद्यालयों में पढऩे वाले 500- 500 बच्चों, उनके शिक्षकों और अभिभावकों को नए विद्यालय भवन की शुभकामनाएं दीं और कहा कि वे हमीरपुर के विकास हेतु सदैव इसी प्रकार कार्यरत रहेंगे।

अनुराग ठाकुर ने कहा अच्छी शिक्षा ही राष्ट्रनिर्माण की प्रथम सीढ़ी है। छात्रों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा ही उन्हें एक बेहतर नागरिक बनाने में सहायक सिद्ध होती है। अपने हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में छात्रों को अच्छी शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए मैं सदा ही प्रयासरत रहा हूँ, और यह हर्ष का विषय है कि आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हिमाचल के हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में दो केंद्रीय विद्यालय केवी नादौन व केवी सलोह का लोकार्पण किया है। केंद्रीय विद्यालय नादौन की शुरुआत 1996 में हुई थी पर इसे अपना भवन 28 वर्षों बाद मोदी सरकार ने दिया है। अनुराग ठाकुर ने कहा कि मैं इसके प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का हार्दिक आभार प्रकट करता हूँ।

अनुराग ठाकुर ने आगे कहा कि हमारे सभी युवाओं को एक साथ आकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवाहन के अनुरूप 2047 तक भारत को एक विकसित राष्ट्र बनाना है।

अनुराग ठाकुर ने बताया कि नरेंद्र मोदी सरकार ने 34 वर्षों बाद नई शिक्षा नीति लागू की है। इसमें स्थानीय भाषाओं, खेलकूद और स्किल डेवलपमेंट पर ध्यान दिया गया है। आज पूरे देश में 10,000 से ज्यादा अटल टिंकरिंग लैब कार्यरत हैं। पहले देश में 350 मेडिकल कॉलेज थे, मोदी जी ने 700 बना दिए। आज देश में 1100 विश्वविद्यालय हैं। हम नादौन से मात्र 1 घंटे की दूरी पर देहरा में भी 500 करोड़ की लागत से केंद्रीय विश्वविद्यालय बना रहे हैं। अब हमारे क्षेत्र के बच्चे अपने घर पर ही केंद्रीय विद्यालय से पढ़ कर केंद्रीय विश्वविद्यालय में पढ़ सकते हैं।

नादौन व सलोह के साथ नलेटी, घुमारवीं, बंगाणा, धर्मपुर व संधोल को लेकर हमीरपुर में कुल 6 केंद्रीय विद्यालय हो चुके हैं। हमने ऐसे हीं हमीरपुर एनआईटी और स्लोह में ही ट्रिपल आईटी भी बनाया है। पहले हमारे यहां मेडिकल कॉलेज नहीं थे। मैंने आपकी आवाज उठाकर हमीरपुर में मेडिकल कॉलेज और बिलासपुर में एम्स बनवाया। इसके अलावा कई आईटीआई भी बनाए गए हैं। हम जल्द हमीरपुर में खेल के क्षेत्र में पूरे उत्तर भारत में अनोखा नेशनल सेंटर आफ एक्सीलेंस बना रहे हैं। ठाकुर ने कहा कि मैं यही चाहता हूं कि हमारे युवा साथी अच्छी शिक्षा ग्रहण करें और आगे बढ़ें।