Categories

जनता की ताकत को चुनौती दे रहे जय राम : सीएम

महिलाओं की 1500 रूपये पैंशन रूकवाने को दिल्ली से डाला जा रहा दवाब: सीएम
डलहौजी विधानसभा क्षेत्र के सलूणी में मुख्यमंत्री ने कांग्रेस प्रत्याशी के लिए किया प्रचार

धर्मशाला : कांगड़ा लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी आनंद शर्मा के पक्ष में चम्बा जिले के सलूणी में एक विशाल चुनावी जनसभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविन्दर सिंह सुक्खू ने कहा कि आनंद शर्मा ने बतौर केन्द्रीय मंत्री हिमाचल प्रदेश को बहुत कुछ दिया है। कांगड़ा में केन्द्रीय विश्वविद्यालय, नेशनल इंस्टीच्यूट ऑफ फैशन टैक्नोलजी, नादौन में सपाईस पार्क, शिमला में पासपोर्ट ऑफिस आनंद शर्मा ही लेकर आये हैं। उन्होंने कहा कि चम्बा का मेडिकल कॉलेज भी कांग्रेस पार्टी की ही देन है और इसका नाम भी देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू के नाम पर रखा गया है। उन्होंने लोकसभा क्षेत्र के मतदाताओं से आनंद शर्मा को बड़े अंतर से विजयी बनाने की अपील की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने अपनी चुनावी गारंटी को पूरा करते हुए 1.36 लाख कर्मचारियों को पुरानी पैंशन प्रदान की तथा महिलाओं के साथ किए गए वायदे को पूरा करते हुए 1500 रूपये प्रति माह पैंशन देने की योजना को भी लागू कर दिया है। उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष जय राम ठाकुर और उनकी टीम इस योजना को रूकवाने में लगी हुई है। उन्होंने कहा कि इस योजना की लाभार्थी महिलाओं की देय किश्त को रूकवाने के लिए भाजपा दिल्ली से चुनाव आयोग पर दवाब डाल रही है। इस योजना के तहत अभी भी फॉर्म भरे जा रहे हैं और महिलाएं अधिक से अधिक संख्या में इस योजना के फॉर्म भरें। उन्होंने कहा कि भाजपा जितनी भी कोशिश कर ले लेकिन जून माह में लाभार्थी महिलाओं को पैंशन के 3000 रूपये एकमुश्त प्रदान किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि चुनौतियां देना जय राम ठाकुर की आदत बन गई है। पहली चुनौती कर्मचारियों को दी और कहा कि चुनाव लड़ो तभी पैंशन मिलेगी। दूसरी चुनौती भगवान को दी, जब कहा कि सरकार को भगवान भी नहीं बचा सकता। अब तीसरी चुनौती प्रदेश की जनता को दे रहे हैं कि चार जून को हिमाचल में भाजपा की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा कि जनता जय राम ठाकुर और उनकी पार्टी को कड़ा सबक सिखाते हुए लोकसभा की चारों सीटें और विधानसभा उपचुनाव की सभी 6 सीटें कांग्रेस के खाते में डालेंगे। एक जून को प्रदेश की जनता भाजपा को राज्यसभा की एक सीट चुराने की सजा देंगे और कांग्रेस के सभी प्रत्याशियों को बड़े अंतर से विजयी बनायेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता खरीद फरोख्त की राजनीति को करारा जवाब देकर पूरे देश में एक मिसाल पेश करेगी।

ठाकुर सुखविन्दर सिंह सुक्खू ने कहा कि कांग्रेस के 6 बिके हुए विधायकों ने भाजपा के साथ मिलकर प्रदेश सरकार को गिराने का षडयंत्र रचा। भाजपा ने अन्य कांग्रेस विधायकों को भी तरह तरह के प्रलोभन दिये लेकिन वे दवाब के आगे नहीं झुके। उन्होंने कहा कि सरकार को कोई खतरा नहीं है और पार्टी से दगाबाजी करने वाले 6 विधायक विधानसभा से निष्कासित कर दिये गए हैं और सर्वोच्च अदालत ने भी स्पीकर के फैसले पर मोहर लगा दी है। अब तीन निर्दलीय विधायक भी धनबल के दवाब में आकर अपना इस्तीफा देने को आतुर हैं। उन्होंने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष कानून के ज्ञाता हैं और सोच समझकर अपना निर्णय देते हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली भाजपा सरकार से प्रदेश का खाली खजाना विरासत में मिला लेकिन अपनी सेहत की परवाह किये बगैर भ्रष्टचार को रोकने और आर्थिक संसाधन बढ़ाने के लिए दिन रात प्रयास किए। भ्रष्टाचार रोकने से सरकार के खजाने में 2200 करोड़ रूपये का अतिरिक्त राजस्व आया जिससे जनता के कल्याण के लिए योजनाएं बनाई जा रही हैं। इसके अतिरिक्त 1100 रूपये पैंशन प्राप्त करने वाली दो लाख से अधिक महिलाओं की पैंशन भी बढ़ाकर 1500 रूपये किया गया है। साथ ही आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, पंचायत चौकीदारों, मिड डे मील वर्करर्ज, सिलाई अध्यापिकाओं सहित कई श्रेणियों में मानदेय बढ़ाया गया है।

ठाकुर सुखविन्दर सिंह सुक्खू ने कहा कि पिछली भाजपा सरकार में नौकरियां नीलाम होती रहीं और जय राम ठाकुर सोये रहे। पुलिस भर्ती का पेपर नीलाम हुआ और हमीरपुर अधीनस्थ कर्मचारी चयन आयोग में भी पेपर बिके। भाजपा ने कार्यकर्ताओं और रिश्तेदारों को नौकरियां दिलाई। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के प्रयासों से जेओए आईटी की लिखित परीक्षा का परिणाम घोषित हो गया है जो कई वर्षों से सुप्रीम कोर्ट में लटका हुआ था तथा अब दस्तावेजों की जांच की प्रक्रिया जारी है। उन्होंने कहा कि पिछली भाजपा सरकार ने पांच वर्ष में मात्र 20 हजार सरकारी नौकरियां दी गईं जबकि वर्तमान कांग्रेस सरकार ने एक वर्ष में ही 22000 से अधिक सरकारी नौकरियां निकली हैं। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया, कांगड़ा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी आनंद शर्मा, विधायक नीरज नैयर, पूर्व मंत्री आशा कुमारी सहित अन्य पार्टी के पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित रहे।