Categories

भारतीय संविधान ने देश को कभी दिशाहीन नहीं होने दिया : रवि चन्द्र नेगी

॥> रामपुर एचपीएस में हर्षोल्लास से मनाया गणतंत्र दिवस समारोह

बायल : रामपुर जल विद्युत स्टेशन बायल ने 74वाँ गणतंत्र दिवस समारोह हर्षोल्लास के साथ मनाया। इस समारोह में कार्यपालक निदेशक/ परियोजना प्रमुख रवि चन्द्र नेगी मुख्यातिथि के रूप में उपस्थित रहे। समारोह का शुभारंभ रवि चन्द्र नेगी ने राष्ट्रीय ध्वज फहरा कर किया एवं सीआईएसएफ, हिम्पेस्को के जवानों द्वारा परेड की गई एवं राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी गई।

परियोजना प्रमुख ने उपस्थित जनसमूह को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी। उन्होंने सभी को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस दिन का हमारे जीवन में विशेष महत्व है क्योंकि 26 जनवरी 1950 को देश में भारतीय संविधान को लागू किया गया था तथा भारत एक लोकतांत्रिक, संप्रभु तथा गणतंत्र देश घोषित किया गया। उन्होंने बताया कि भारत का संविधान एक ऐसा सजीव ग्रन्थ है, जिसमें पिछले 72 वर्षों में चाहे जितने भी बदलाव आए मगर भारतीय संविधान ने इस देश को कभी दिशाहीन नहीं होने दिया और इस देश के सभी वर्गों को, सभी विचारधाराओं को, सभी धर्मों और सम्प्रदायों को एकजुट रखा और बिखरने नहीं दिया।

उन्होंने बताया कि रामपुर एचपीएस विद्युत उत्पादन के नित नए उच्चतम मापदण्डों को स्थापित कर रहा है। एसजेवीएन की रामपुर परियोजना ने सितम्बर, 2022 में 290.4085 मिलियन यूनिट उत्पादन कर अब तक का सर्वश्रेष्ठ मासिक कीर्तिमान स्थापित किया। उन्होंने उम्मीद जताई कि इस वर्ष एमओयू का ऊर्जा उत्पादन का लक्ष्य 2050 मिलियन यूनिट है,जो कि मार्च 2023 तक प्राप्त कर लिया जाएगा। रामपुर परियोजना के वर्तमान पीएएफ अब तक 109.029 रहा।

उन्होंने अपने संबोधन में बताया कि एसजेवीएन के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक नन्द लाल शर्मा की अगुवाई में एसजेवीएन देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी अपना परचम लहरा रहा है। एसजेवीएन ही भारत की एकमात्र जल विद्युत कम्पनी है, जिसने पड़ोसी देशों-भूटान और नेपाल में अपनी उपस्थिति दर्ज की है। नन्द लाल शर्मा के कुशल नेत्तृत्व में एसजेवीएन अभी 45,002 मेगावाट की विभिन्न परियोजनाओं पर कार्य कर रही है तथा दिन दुगनी और रात चौगुनी तरक्की कर रही है और एसजेवीएन के सांझा विजन 5000 मि0यू0 2023, 25000 मि0यू0 2030 एवं 50000 मि0यू0 2030 तक पूरा करने की ओर निरंतर अग्रसर है।
एसजेवीएन प्रबंधन के कुशल नेत्तृत्व एवं दिशा- निर्देशों के अनुरूप सीएसआर नीति के तहत रामपुर परियोजना द्वारा स्वास्थ्य एवं स्वच्छता के अंतर्गत एमएमयू द्वारा वर्ष 2022-2023 की अवधि के दौरान अब तक 8349 लोगों की स्वास्थ्य जांच की जा चुकी है। परियोजना चिकित्सालय में फिजियोथेरेपी सेवा के तहत इस वर्ष अब तक 2184 लोगों ने लाभ उठाया है। परियोजना चिकित्सालय बायल में दन्त चिकित्सा इकाई के अंतर्गत अब तक 931 लोगों का उपचार किया जा चुका है। वित्तीय वर्ष 2022-23 के दौरान परियोजना प्रभावित क्षेत्रों में 40 आयुर्वेदिक स्वास्थ्य श्ििवरों का आयोजन किया गया जिसमें 5294 लोगों ने भाग लिया व जिसके अंतर्गत 14.12 लाख की राशि खर्च की गई। इसके अतिरिक्त ग्राम पंचायत बाड़़ी में ओपन हैंड्स वेल्फेयर सोसायटी द्वारा नवम्बर, 2022 में विशिष्ट स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया जिसमें 18 लोगों ने भाग लिया।
रजत जयंती महिला एवं बाल विकास योजना के तहत वित्तीय वर्ष 2022-23 में अब तक 07 महिलाओं को स्वास्थ्य अनुरक्षण प्रदान किया जा चुका है। वर्ष 2022-23 की अवधि के दौरान स्वच्छ भारत अभियान के तहत विभिन्न स्कूलों एवं गांवों में 14.81 लाख रूपये की लागत से 14 शौचालयों का निर्माण किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्याालय दत्तनगर में 13.22 लाख की वित्तीय सहायता से छात्र एवं छात्राओं हेतु शौचालयों का निर्माण किया गया। संस्कृति, विरासत और प्रतिष्ठित स्थानों का संरक्षण और संवर्धन के अंतर्गत वर्ष 2022-23 की अवधि के दौरान परियोजना प्रभावित पंचायतों के मंदिरों का मुरम्मत कार्य इत्यादि किया गया। वर्तमान में परशुराम मंदिर परिसर, निरमंड में 29.80 लाख की राशि से नवीनीकरण कार्य किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त परियोजना प्रभावित क्षेत्र में 54.07 लाख की 10 हाई मास्ट सोलर फ्लड लाइटों की स्थापना की गई। 5.30 लाख की वित्तीय सहायता से ग्राम पंचायत गडेज ओर ब्रौ में लाइ्रब्रेरी हेतु पुस्तकें प्रदान की गई। ग्राम पंचायत बाडी के पाली गांव में 30 महिलाओं को सिलाई का प्रशिक्षण प्रदान किया गया। 5.37 लाख की राशि परियोजना प्रभावित पंचायतों के सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे 90 मेधावी छात्र- छात्राओं को मैरिट स्कॉलरशिप प्रदान की गई।
परियोजना प्रमुख ने परियोजना प्रभावित क्षेत्र के सभी देवी-देवताओं को नमन किया तथा परियोजना प्रभावित परिवारों, गांवों व अन्य स्थानीय लोगों का धन्यवाद किया जिनके सहयोग से यह परियोजना निर्बाध रूप से देश की उन्नति में निरन्तर अपनी अहम भूमिका अदा कर रही है।
गणतंत्र दिवस के अवसर पर अंातर विभागीय समूहगान प्रतियोगिता ”तिरंगाÓÓ का आयोजन किया गया जिसमें देश भक्ति से ओत-प्रोत गीतों की प्रस्तुतियाँ रामपुर एचपीएस के नियमित कार्मिकों, हिमपेस्को कार्मिकों व महिला कल्ब की सदस्यों द्वारा दी गई। इस प्रतियोगिता में कुल 10 टीमों ने भाग लिया। इसके अतिरिक्त लघु-नाटिका प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें 3 टीमों ने भाग लिया। इस अवसर पर विशेष अतिथि के रूप में रत्न मंजीरी नेगी उपस्थित रही। अन्त में विजेता प्रतिभागियों एवं अन्य प्रस्तुतियों के प्रतिभागियों को परियोजना प्रमुख द्वारा पुरस्कृत किया गया।