Categories

हिमाचल प्रदेश मिनिस्ट्रियल स्टाफ एसोसिएशन ने वन रक्षक के साथ हुई मारपीट की कड़ी निंदा की

शिमला : हिमाचल प्रदेश मिनिस्ट्रियल स्टाफ एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रकाश बादल में किन्नौर के लिप्पा में वन रक्षक के साथ हुई मारपीट की कड़ी निंदा की है। वनों की रक्षा में जुटे वन रक्षकों के साथ इस तरह की मारपीट निंदनीय नहीं बल्कि चिंताजनक है। मिनिस्ट्रियल स्टाफ एसोसिएशन ने बताया कि फील्ड कर्मी वनों की रक्षा के लिए तत्परता से काम करते हैं और उनके साथ माफियाओं द्वारा इस तरह का व्यवहार निंदनीय है।
मिनिस्ट्रियल स्टाफ एसोसिएशन ने वन मंत्री राकेश पठानिया, प्रधान सचिव वन ओंकार शर्मा तथा प्रधान मुख्य अरण्यपाल अजय श्रीवास्तव को पत्र लिख कर लिप्पा के वन रक्षक के साथ हुई बदसलूकी पर कड़ी कार्रवाई करने का आग्रह किया है और बदसुलूकी करने वाले ठेकेदार पर सख्त कानूनी कार्रवाई करने का आग्रह किया है। प्रकाश बादल ने एक लिखित पत्र के माध्यम से सरकार से आग्रह किया है कि इस प्रकार की शर्मनाक घटनाओं को रोकने के लिए बदसलूकी करने वाले माफियाओं पर कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए। मिनिस्ट्रियल स्टाफ के अध्यक्ष ने बताया कि उनकी एसोसिएशन वन विभाग के हर कर्मी के साथ उस समय खड़ी रहेगी जब उन पर इस तरह के निंदनीय हमले होते रहेंगे और उन्हें किसी प्रकार की सहायता की आवश्यकता होगी।