Categories

राज्यपाल ने आजादी का अमृत महोत्सव-राष्ट्रीय युवा महोत्सव का शुभारंभ किया

शिमला : राज्यपाल राजेन्द्र विश्वनाथ आर्लेकर ने आज शिमला के निकट बलदेयां में ‘जेनिथ’ संस्था द्वारा आयोजित आजादी का अमृत महोत्सव-राष्ट्रीय युवा महोत्सव का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि युवा हमारी संस्कृति के असली दूत हैं। उन्होंने कहा कि देश को आत्मनिर्भर बनाने में भी युवाओं को अपना महत्वपूर्ण योगदान देना चाहिए।
राज्यपाल ने कहा कि अनेकता में एकता ही हमारी पहचान है। हमारी भावनाएं और विचार एक ही हैं तथा ये हमारी संस्कृति और युवा उत्सवों में परिलक्षित होते हैं। इस तरह के कार्यक्रम हमारी समृद्ध संस्कृति का संरक्षण एवं संवर्द्धन करते हैं। सामाजिक समरसता पर जोर देते हुए राज्यपाल ने कहा कि बी.आर. इदाते जैसे सामाजिक कार्यकर्ताओं ने समाज को समरसता का पाठ पढ़ाया है। उन्होंने कहा कि ऐसे व्यक्ति युवाओं के लिए आदर्श होते हैं और युवाओं को इनसे प्रेरणा लेनी चाहिए।
राजेन्द्र विश्वनाथ आर्लेकर ने कहा कि हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं और अब हमें अमृतकाल की ओर बढऩा है। वर्ष 2047 तक अमृतकाल की इस अवधि में प्रत्येक व्यक्ति को राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान सुनिश्चित करना चाहिए। राज्यपाल ने कहा कि प्रत्येक नागरिक को यह चिंतन करने की आवश्यकता है कि अगले 25 वर्षों में वह देश और समाज के लिए क्या कर सकता है। राज्यपाल ने युवाओं से स्वदेशी अपनाने का संकल्प लेने का आह्वान किया, ताकि हम आत्मनिर्भर बन सकें।
सामाजिक न्याय मंत्रालय से संबद्ध डीडब्ल्यूबीडीएनसी के पूर्व अध्यक्ष और नीति आयोग उप-समिति के सदस्य बी.आर. इदाते ने कहा कि भारत की समृद्ध संस्कृति को दुनिया तक ले जाने में युवाओं की भूमिका बहुत ही महत्वपूर्ण है। स्वामी विवेकानंद और कई महान हस्तियों ने कम उम्र में ही यह काम किया था। उन्होंने कहा कि युवा ही देश को प्रगति के पथ पर आगे ले जा सकते हैं। उन्होंने समाज से छुआछूत जैसी बुराईयों को दूर करने आह्वान भी किया।
इस अवसर पर राष्ट्रीय युवा पुरस्कार विजेता और आजादी का अमृत महोत्सव-राष्ट्रीय युवा महोत्सव के आयोजक डॉ. मनीष गवई ने राज्यपाल का स्वागत किया और आजादी का अमृत महोत्सव के तहत आयोजित की जा रही गतिविधियों की जानकारी दी।
इस अवसर पर बी.आर. इदाते ने राज्यपाल को ‘एक्सीलेंस अवार्डÓ से सम्मानित किया। राज्यपाल ने इस अवसर पर बी.आर. इदाते को ‘लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्डÓ से सम्मानित किया। समारोह के दौरान कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। इस अवसर पर टीम जेनिथ के अध्यक्ष मिथिल कलांबे और आजादी का अमृत महोत्सव-राष्ट्रीय युवा महोत्सव के समन्वयक, देश भर से चयनित प्रतिभागी और अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।