Categories

राज्यपाल ने तीसरी हॉफ मैराथन-2022 को हरी झंडी दिखाई

शिमला : राज्यपाल राजेन्द्र विश्वनाथ आर्लेकर, जो यूथ हॉस्टल्स एसोसिएशन ऑफ इण्डिया वाईएचएआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं, ने आज नई दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में यूथ हॉस्टल्स एसोसिएशन ऑफ इण्डिया और सेंट्रल सिविल सर्विसेज कल्चरल एंड स्पोर्ट्स बोर्ड-कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित तीसरी हॉफ मैराथन-2022 के दौरान 5 किलोमीटर की दौड़ को हरी झण्डी दिखाई। हॉफ मैराथन के दौरान 21, 10 और 5 किलोमीटर के तीन वर्गों में करवाई गई दौड़ स्पर्धाओं में लगभग 2,000 महिला और पुरुष प्रतिभागियों ने भाग लिया।
इस अवसर पर राज्यपाल ने सभी प्रतिभागियों को खराब मौसम के बावजूद मैराथन में भाग लेने के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के आयोजनों में सभी प्रतिभागी विजेता होते हैं। उन्होंने कहा कि अच्छा स्वास्थ्य जीवन की सबसे बड़ी पूंजी होती है और इसके लिए शारीरिक फिटनेस सबसे महत्वपूर्ण है।
कार्यक्रम के दौरान केन्द्रीय युवा कार्य एवं खेल, सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने रोजमर्रा के जीवन में शारीरिक स्वास्थ्य के महत्व को रेखांकित करते हुए कहा कि वर्तमान में समाज इस दिशा में जागरूक हो रहा है। उन्होंने हाफ मैराथन में सभी आयुवर्ग के प्रतिभागियों के भाग लेने पर प्रसन्नता व्यक्त की।
इस अवसर पर राज्यपाल ने 21 किलोमीटर दौड़ में प्रथम स्थान पर रहने वाले विजेता को 10,000 रुपये, द्वितीय स्थान पर रहने वाले प्रतिभागी को 7,000 रुपये और तृतीय स्थान पर रहने वाले प्रतिभागी को 5,000 रुपये के नगद पुरस्कार और ट्रॉफी प्रदान की। उन्होंने 10 किलोमीटर लंबी दौड़ में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान पर रहने वाले विजेताओं को क्रमश: 7,000 रुपये, 5,000 रुपये और 3,000 रुपये के नगद पुरस्कार और ट्रॉफी प्रदान की। पांच किलोमीटर लंबी दौड़ में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान पर रहने वाले प्रतिभागियों को क्रमश: 5,000 रुपये, 3,000 रुपये और 2,000 रुपये के नगद पुरस्कार और ट्रॉफी प्रदान की।
इससे पहले यूथ हॉस्टल्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रूपेश पांडे ने राज्यपाल, अन्य अतिथियों तथा सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया। इस अवसर पर सेंट्रल सिविल सर्विसेज कल्चरल एंड स्पोर्ट्स बोर्ड की अध्यक्ष रश्मि चौधरी, यूथ हॉस्टल्स एसोसिएशन ऑफ इण्डिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष वेंकट नारायण और एसोसिएशन के अन्य प्रतिनिधि भी उपस्थित थे।