Categories

लोकतंत्र अधिकाधिक मतदान से ही मजबूत होता है : दिलीप वर्मा

शिमला : भारत निर्वाचन आयोग के दिशानिर्देशों के तहत निर्वाचक प्रक्रिया में लोगों की सहभागिता बढ़ाने के उद्देश्य से 62- कसुम्पटी निर्वाचन क्षेत्र में निर्वाचन अधिकारी डॉ. पूनम के मार्गदर्शन में जन जागरूकता अभियान जारी है। जिसके माध्यम से अध्यापकों एवं विद्यार्थियों को अधिक से अधिक मतदान के लिए जागरूक किया जा रहा है। इस कड़ी मे आज राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला मशोबरा, औद्योगीक प्रशिक्षण संस्थान मशोबरा, माया पब्लिक हाई स्कूल मशोबरा व मॉडर्न एजुकेशन सोसाइटी स्कूल मशोबरा में सुव्यवस्थित मतदाता शिक्षा एवं निर्वाचक सहभागिता (स्वीप) के नोडल अधिकारी दिलीप वर्मा ने अध्यापकों एवं विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि लोकतंत्र वास्तव में अधिकाधिक मतदान से ही मजबूत और समृद्ध होता है तथा प्रजातंत्र के मूल्यों को विकसित करने की जरुरतों पर भी प्रकाश डाला व विद्यार्थियों को आने वाले विधानसभा निर्वाचन 2022 में अपने घर के सभी मतदाताओं को वोट देने के लिए प्रेरित करने को कहा।
स्वीप कार्यक्रम के अधीन दो मुख्य घटको गो ब्लू नेल पालिश लगाने व बालतंत्र अभियान की भी जानकारी दी। बालतंत्र की जानकारी देते हुये कहा कि उन्हे अपने अभिभावकों से एक शपथ-पत्र भरवाकर लाना है जिसमे उन्हे शपथ लेनी है कि वह भारतीय लोकतन्त्र का एक जागरूक निर्वाचक है तथा वह निर्वाचक प्रक्रिया मे भागीदार बनकर लोकतन्त्र को सुदृढ़ करेगा तथा आगामी विधानसभा निर्वाचन 2022 मे निर्भीक हो कर मतदान का प्रयोग करेगा। इस अवसर पर बच्चों को संकल्प पत्र भी वितरित किये गये द्य उन्होने आगे कहा कि हिमाचल प्रदेश मे मतदान के लिए वीवीपैट मशीन का प्रयोग किया जा रहा है जिसमे मतदाता सात सैकंड तक यह देख सकता है कि उसने किसे मत दिया है। इस अवसर पर दूसरे नोडल अधिकारी हेमंत वर्मा ने विद्यार्थियों से भी प्रतिज्ञा करवाई गई कि वे सभी बर्जुर्गों ,युवाओं और महिलाओं को चुनाव में बढ़-चढ़ भाग लेने के लिय प्रेरित करेगें।
इस अवसर पर राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला मशोबरा, औद्योगीक प्रशिक्षण संस्थान मशोबरा, माया पब्लिक हाई स्कूल मशोबरा व मॉडर्न एजुकेशन सोसाइटी स्कूल मशोबरा के प्रधानाचार्य, पा्रध्यापक, अध्यापक, अन्य कर्मचारी व विद्यार्थी उपस्थित थे।