प्रधानमंत्री आदर्श योजना के अन्तर्गत जिला कांगड़ा के 22 गांव आदर्श घोषित

धर्मशाला : प्रधानमंत्री आदर्श गांव योजना अभिसरण समिति के अध्यक्ष एवं उपायुक्त डॉ. निपुण जिंदल ने बताया कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा संचालित प्रधानमंत्री आदर्श गांव योजना के अन्तर्गत जिला कांगड़ा में 22 गांव आदर्श घोषित किये गये हैं। इस योजना का उद्देश्य 50 प्रतिशत से अधिक अनुसूचित जनसंख्या वाले गांवों का एकीकृत विकास सुनिििश्चत करना है।
उन्होंने बताया कि आदर्श ग्राम एक ऐसी संकल्पना है जिसमें लोगों को विभिन्न बनियादी सेवाएं देने की परिकल्पना की गई है, ताकि समाज के सभी वर्गों की न्यूनतम आवश्यकताओं की पूर्ति हो, और असमानताएं कम से कम रहें। इन सब गांवों में वह सब ऐसी अवसंरचना होगी और इसके निवासियों को ऐसी सभी बुनियादी सेवाओं की सुविधा मिलेगी, जो एक सम्मानजनक जीवन जीने के लिए आवश्यक है।
उन्होंने कहा कि इस योजना का प्राथमिक उद्देश्य 10 विभिन्न कार्यक्षेत्रों जैसे पेयजल और स्वच्छता, शिक्षा, स्वास्थ्य और पोषण सामाजिक सुरक्षा, ग्रामीण सड़कें और आवास, विद्युत और स्वच्छ ईंधन, कृषि पद्धतियां, वित्तिय समावेषण डिजीटलीकरण और जीवन यापन तथा कौशल विकास के अन्तर्गत 50 निगरानी योग्य संकेतकों में सुधार करना है। प्रत्येक निगरानी योग्य संकेतक के दो अंक रखे गये हैं। उन्होंने कहा कि कोई भी गांव अधिकतम 100 अंक प्राप्त कर सकता है। केन्द्र सरकार द्वारा ऐसे सभी चयनित गांवों के लिए 20 लाख की राशि अंतर पाटन घटक के अन्तर्गत कार्यकलापों के लिए निर्धारित की है।
उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायत छत्तर के गांव छत्तर झिकला तथा छत्तर जोगियां, ग्राम पंचायत कैहरियां के गांव कंदरोह, ग्राम पंचायत रूलेहड के गांव रूलेहड, ग्राम पंचायत डोहब के गांव झिकला डोहब, ग्राम पंचायत स्थाना के गांव भांथ, ग्राम पंचायत रोडी-कोडी के गांव शाम नगर, ग्राम पंचायत हार के गांव हार, ग्राम पंचायत डाडासीबी के गांव बलवार, ग्राम पंचायत नाहन नगरोटा के गांव सुकराला, ग्राम पंचायत लुथान के गांव सुधांगल, ग्राम पंचायत कोसरी के गांव कोसरी खास, ग्राम पंचायत टम्बर के गावं मंझोटी, ग्राम पंचायत अगोजर के गांव अगोजर खास, ग्राम पंचायत मोलीचक के गांव मोलीचक, ग्राम पंचायत माधोनगर के गांव लोट, ग्राम पंचायत खरनाल के गांव खरनाल, ग्राम पंचायत मझैरना के गांव चकोल भेडू, ग्राम पंचायत धानग के गांव धानग, ग्राम पंचायत महालपट्ट के गांव चकोल, ग्राम पंचायत कुंसल के गांव कुंसल उपरली तथा ग्राम पंचायत भट्टू पंजाला के गांव पंजाला उपरला को आदर्श गांव घोषित किया गया है।
तहसील कल्याण अधिकारी रमेश कुमार ने बताया कि जिन्हें 50 निगरानी योग्य संकेतकों में 70 या इससे अधिक अंक प्राप्त हैं, को उपायुक्त कांगड़ा जो जिला प्रधानमंत्री आदर्श गांव योजना अभिसरण समिति के अध्यक्ष भी हैं, द्वारा आदर्श ग्राम घोषित किया गया है।