Categories

2 लाख 10 हज़ार 50 लीटर अवैध शराब बरामद

शिमला : अवैध शराब विक्रेताओं के खिलाफ जारी कार्रवाई में राज्य कर एवं आबकारी विभाग ने आबकारी राजस्व जिला नूरपुर प्रभारी टिक्कम ठाकुर के नेतृत्व में अधिकारियों द्वारा मिलवान, ठाकुरद्वारा, गगवाल, उलेहरियान, बरोटा और चक तेरियन के सीमावर्ती इलाकों में एक छापेमारी की गई। छापेमारी के दौरान गगवाल और चक तेरियन गांवों से लगभग 188000 लीटर (एक लाख अ_ासी हजार लीटर) कच्ची शराब और 50 लीटर लाहन जब्त किया गया। हिमाचल आबकारी अधिनियम की धारा 39 के तहत मामला दर्ज किया गया है। कानूनी प्रक्रिया का पालन करते हुए लाहन, तिरपाल और इस्तेमाल की गई अन्य सामग्री की वीडियोग्राफी की गई। आबकारी अधिनियम के अंतर्गत मौके पर कच्ची शराब को नष्ट कर दिया गया और ड्रम, डिब्बे आदि को पुलिस द्वारा अपने कब्जे में लिया गया। विभाग द्वारा 50 लीटर लाहन को कब्जे में लिया है और इस सबंध में एफ आई आर दर्ज की गई है। उपरोक्त कार्य हेतु आबकारी विभाग पंजाब, हिमाचल पुलिस व पंजाब पुलिस की मदद ली गयी।
एक अन्य मामले में जिला सिरमौर में पावंटा साहिब तहसील के खारा के जंगल में जिला प्रभारी हिमांशु पंवार द्वारा गठित टीम ने पावटा साहिब के खारा में 5 किलोमीटर जंगल मे अंदर जा कर अवैध शराब की भट्टियों को कब्जे में लेकर नष्ट किया। मौके पर तैयार कच्ची शराब के ड्रम, टायर टयूब और प्लास्टिक गैलन में भरी हुई 22 हज़ार लीटर शराब को अधिकारियों ने आबकारी अधिनियम के अंतर्गत नष्ट किया।
राज्य कर एवम आबकारी आयुक्त यूनुस ने बताया कि चुनावों के मद्देनजर प्रदेश में किसी भी तरह की अवैध शराब का कारोबार पनपने नही दिया जायेगा। विभाग ने इस कार्य हेतु अपनी टीमें गठित कर दी हैं। इन टीमों द्वारा आज प्रदेश के विभिन्न भागों में आबकारी अधिनियम के अंतर्गत औचक निरीक्षण किया गया जिसमें भारी मात्रा में कच्ची शराब को अपने कब्जे में लेकर नियमानुसार नष्ट कर दिया गया। आबकारी आयुक्त हिमाचल प्रदेश ने बताया कि चुनावों के मद्देनजर प्रदेश में अवैध शराब के प्रति विभाग जीरो टॉलरेंस की नीति अपना रहा है। मदिरा से सम्बंधित किसी भी प्रकार की शिकायत निम्न पर कर सकते हैं
टोल फ्री नंबर 1800-180-8062, ई-मेल-1ह्यद्गद्यद्गष्ह्लद्बशठ्ठ२०२२ञ्चद्वड्डद्बद्यद्धश्चह्लड्ड3 या व्हाट्सएप नंबर-9418611339